Search

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) क्या है और यह शरीर के लिए क्यों जरुरी हैं ?

स्वास्थ्य के लिए बैक्टीरिया (Bacteria) अच्छे होते हैं। हालाँकि ये समझना मुश्किल है, लेकिन यह सच है। हम सूक्ष्मजीवियों को नष्ट करने के लिए एंटीबायोटिक या बैक्टीरिया (Bacteria) रोधी साबुनों का प्रयोग करते हैं, लेकिन सही स्थान पर सही बैक्टीरिया (Bacteria) होना लाभदायक सिद्ध हुआ है। आमतौर पर हम बैक्टीरिया (Bacteria) को कोई ऐसी वस्तु मानते हैं जो स्वास्थ्य (Health) के लिए अच्छी नहीं होती और बीमारी (disease) उत्पन्न करती है। हमारा शरीर (विशेषकर आंतें) बैक्टीरिया (Bacteria) से भरी होती हैं, जिनमें उपयोगी भी होते हैं और नुकसान पहुँचाने वाले भी।

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) क्या होते हैं?

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) वह सूक्ष्मजीवी (Microorganisms)  हैं, जो सेवन किये जाने पर स्वास्थ्य को लाभ प्रदान करने वाले माने जाते हैं। प्रोबायोटिक जीवित सूक्ष्मजीवी(Microorganisms) होते हैं, जो अक्सर अच्छे या मित्र बैक्टीरिया (Bacteria) भी कहे जाते हैं। लैक्टोबैसिलस (Lactobacillus) और बीफिडोबैक्टीरियम (Bifidobaktiriam) प्रजातियाँ Probiotics (प्रोबायोटिक्स) के सबसे सामान्य उदाहरण हैं।

loading...

प्रीबायोटिक्स, Probiotics (प्रोबायोटिक्स) से भिन्न होते हैं, हालाँकि वे आपस में सम्बंधित (Related) होते हैं। प्रीबायोटिक्स (Preebayotiks) न पचने वाले भोज्य पदार्थ होते हैं, जो आंत में एक या अधिक प्रकार की बैक्टीरिया (Bacteria) प्रजातियों के विकास को विशेष प्रकार से सुधारकर मेजबान व्यक्ति पर लाभकारी प्रभाव देते हैं, जैसे कि लैक्टोबैसिलस (Lactobacillus) और बीफिडोबैक्टीरिया (Bifidobaktiria), जिनमें मेजबान व्यक्ति के स्वास्थ्य (Health) को सुधारने (Improving) की शक्ति होती है। सरल शब्दों में प्रीबायोटिक्स, Probiotics (प्रोबायोटिक्स) के लिए आहार का कार्य करते हैं। जब Probiotics (प्रोबायोटिक्स) और प्रीबायोटिक्स (Preebayotiks) को साथ मिलाया जाता है, तो वे सिंबायोटिक (Probiotics (प्रोबायोटिक्स) और प्रीबायोटिक्स को सामंजस्य के साथ जोड़ने वाले पोषक पूरक आहार, इसलिए इन्हें सिंबायोटिक (Sinbayotik) कहा जाता है) निर्मित करते हैं। प्रीबायोटिक्स (Preebayotiks) साबुत अनाजों(Whole Grain), केले(Banana) , प्याज(Onion), लहसुन(Garlic), शहद (Honey) आदि में पाए जाते हैं।

हम इन Probiotics (प्रोबायोटिक ) को कहाँ से प्राप्त करते हैं?

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) हमारे शरीर में प्राकृतिक (Naturally) रूप से पाए जाते हैं। आप इन्हें कुछ आहारों और पूरकों में भी प्राप्त कर सकते हैं जैसे कि दही (Curd), अचार(Pickle), ब्रेड(Bread) आदि भोज्य पदार्थ। यदि आप पूरक आहारों को लेने की सोच रहे हैं, तो वे आपके लिए अच्छे  हैं यह तय करने से पहले अपने डॉक्टर से जरुर बात करें।

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) के लाभ

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) आपकी आँतों में भोजन को गति करने में सहायता देते हैं। वे कुछ स्थितियों जैसे इरिटेबल बोवेल सिंड्रोम (Bovell Iritebl syndrome), अतिसार (Diarrhea) , आँतों की सूजन (Inflammation of the intestines) आदि की चिकित्सा करते हैं। जब आप अपने शरीर के “अच्छे” बैक्टीरिया (Bacteria) खो देते हैं (उदाहरण के लिए, जब आप एंटीबायोटिक्स लेते हैं), तो Probiotics (प्रोबायोटिक्स) उनकी जगह लेने में सहायता करते हैं। ये आंत में स्थित हानिकारक बैक्टीरिया (Bacteria) को कम करने में भी सहायता करते हैं। प्रिबायोटिक्स आँतों में घावों(Lesions in the intestines) , जैसे एडेनोमा (Adenoma) और कार्सिनोमा (Carcinoma) (गाँठ और कैंसर की स्थिति) की वृद्धि को भी रोकते हैं, और इस प्रकार आँतों (Intestines) और मलाशय  (Rectum) के रोगों को घटाते हैं।

Liver की खराबी के कुछ लक्षण व खराबी दूर करने के घरेलू उपाय

Probiotics (प्रोबायोटिक्स) कितने सुरक्षित होते हैं?

सामान्य रूप से प्रोबायोटिक आहार और पूरक पदार्थ अधिकतर लोगों के लिए सुरक्षित माने जाते हैं, हालाँकि प्रतिरक्षक तंत्र (Immune system) की समस्याओं से या अन्य गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित व्यक्तियों को इन्हें बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं लेना चाहिए। कुछ मामलों में इन्हें लेना शुरू करने के बाद पहले एक-दो दिन ह्ल्के विपरीत प्रभाव हो सकते हैं जैसे पेट का बिगड़ना (Stomach deteriorate) , अतिसार (Diarrhea) , गैस (Gas) , और पेट फूलना (stomach enlargement) आदि आते हैं। ये एलर्जी (Allergies)  भी शुरू कर सकते हैं। यदि आपको ऐसी कोई समस्या हो तो इन्हें लेना तुरंत बंद करें और अपने डॉक्टर से बात करें।

Loading...
loading...

Related posts