Search

बुखार में दवाइयों के दौरान मुँह का स्वाद बिगड़ गया है तो करें ये उपाय

loading...

मुँह का स्वाद बिगड़ना बुखार की बीमारियों के दौरान एक आम समस्या है। इसका कारण यह है गला और मुंह खट्टे और कड़वे हो जाते हैं। कड़वा स्वाद होने के कारण कुछ भी खाने का मन नहीं करता और आपको भोजन के स्वाद के प्रति असंवेदनशील बना देता है। सबसे पहले, आपको मुँह में कड़वे स्वाद के कारणों का पता लगाने की जरूरत है। मुँह में कड़वे स्वाद के सामान्य कारणों में दवायें, मसूड़े की सूजन या किसी अन्य गॅस्ट्रो-एसॉफेगियाल रिफ्लक्स डिसीज़ (गर्ड) (gastro-esophageal reflux disease (GERD) हैं। कभी कभी यह खाना खाने की इच्छा को ख़त्म कर देती है। बुखार के समय मुँह का स्वाद बिगड़ गया है तो करें ये जादूई प्राकृतिक व सरल घरेलू उपाय करें।

मुँह का स्वाद

loading...

मुँह का स्वाद बिगड़ने के कारण

  • दंत समस्याये जैसे पायरिया (pyorrhea), दंत फोड़े, मसूड़ों में संक्रमण, अल्सर, और दंत फिलिंग (fillings) मुँह में कड़वा स्वाद कर सकते हैं।
  • दवाएं जैसे प्रसव पूर्व विटामिन (Vitamins) , एंटीबायोटिक (antibiotics) , अवसाद विरोधी, फोलिक एसिड (Folic Acid) और कुछ अन्य गर्भावस्था संबंधित दवाइयां (Pregnancy-related medicines) कड़वा स्वाद करती है।
  • बीमार स्वास्थ्य दवाओं के कारण कड़वा स्वाद विकसित करता है। बीमारियां जैसे कि मधुमेह (Diabetes) , पीलिया (jaundice) , वायरल बुखार(viral fever) , जिगर (liver)  की समस्याओं और गुर्दे का फेल होना(Kidney Failure) ।
  • गर्भावस्था (Pregnancy), हार्मोनल असंतुलन(hormonal imbalances) के कारण  महिलाओं में एस्ट्रोजेन (Estrogen)के स्तर में परिवर्तन कड़वा स्वाद पैदा होती हैं।
  • एसिड रिफ्लक्स, या गॅस्ट्रो-एसॉफेगियाल रिफ्लक्स डिसीज़ (गर्ड) (Acid reflux, or Gastro-Sofegiyal Reflux Disease (GERD)) की वजह से अनुचित समय पर मसालेदार भोजन, ज्यादा खाना, उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थ खाना कड़वे स्वाद का कारण बनती है। इस वजह पेट के रस का वापस गले में रिसाव होना है। गर्ड के लक्षण सीने में जलन, सिर दर्द, गैस, गले में खराश, मुंह की दुर्गन्ध, सूजन, और जी मिचलाना हैं।

मुँह का स्वाद ठीक करने के घरेलू उपाय

मुँह में कड़वा स्वाद से छुटकारा पाने के लिए अपने  दाँत, ब्रश, जीभ, और मसूड़ों  को एक दिन में दो बार ब्रश करें । यह के लिए आप ब्रश करने के बाद मुंह साफ करने के लिए एक औषधीय माउथवॉश का उपयोग करने का सुझाव दिया जाता  है। औषधीय माउथ वॉश आपके  दांतों के बीच वाले हिस्से को साफ़ करने में मदद करता है। इससे जीवाणु और रोगाणु जो कि आपके दांतों के बीच संचित हो सकते है,  उनको रोका जा सकता है। लंबे समय तक फंसे खाद्य कण दांत, मसूड़ों के लिए खतरनाक होते हैं और मुंह में बैक्टीरिया विकसित करने में मदद करते हैं। इसलिए यह बेहतर है कि बैक्टीरिया की वृद्धि को रोक जाए और एक जीभ स्क्रेपर की मदद से कीटाणुओं के जमा होने से बच जाए।

बेकिंग सोडा

नमक के साथ बेकिंग सोडा मुँह में कड़वे स्वाद के इलाज में मदद करता है, जो एक सरल आसान घरेलु उपाय है। आप बस बराबर अनुपात में  एक मिश्रण तैयार करें और अपने दातों को ब्रश करें। इन दोनों का संयोजन किसी भी दंत संक्रमण को खत्म करने में मदद करता है। इसे दिन में दो बार  दोहराएँ सुबह में और रात में सोने से पहले ।

सरल और आसान घरेलू उपाय खट्टे फलों से लार का उत्पादन

फल स्वास्थ्य के साथ ही त्वचा के लिए अच्छे होते हैं। अच्छे खाद्य पदार्थ मुंह में लार के उत्पादन में मदद करते हैं। सबसे अच्छे खट्टे फल जैसे अंगूर, नींबू और नारंगी। यह लार के उत्पादन शुरू कर सकते हैं जो कड़वे स्वाद को खत्म करने में मदद करते है। खट्टे फल विटामिन सी (Vitamin C) में समृद्ध होते हैं जो आपको खाद्य पदार्थों कास्वाद लेने में और आपको बेहतर महसूस मदद करते हैं  । फलों के बजाय फलों का रस लिया सकता है।

लौंग और दालचीनी का सेवन

दालचीनी और लौंग कड़वा स्वाद को रोकने के लिए मदद करते हैं। लौंग और दालचीनी को मिलाकर एक महीन में पाउडर पीस लें और इस पाउडर का एक चम्मच ले और अपने मुँह में रखें । इस सरल घरेलु उपायको एक दिन में कई बार दोहराएँ मुंह से बुरा या कड़वे स्वाद को हटाने के लिए। लौंग और दालचीनी आसानी से रसोई घर में उपलब्ध चीज़ें हैं। यह मुंह में अप्रिय गंध से छुटकारा पाने में मदद करता है। यह एक त्वरित, आसान और स्वाभाविक रूप से घर पर उपलब्ध उपाय है। वैकल्पिक रूप से, आप एक साधारण लौंग भी उपयोग कर सकते हैं। घर से निकलते समय अपने मुंह में एक लौंग डाल लीजिए और यह आपके मुंह को पूरे दिन के लिए ताजा रखने में मदद करता है। यदि आप चाहते हैं, तो आप मसाले चबा सकते हैं जैसे लौंग और दालचीनी। मुँह में कड़वे स्वाद को कम करने के लिए इन्हें एक दिन में 3 – 4 बार चबाएं।

नमक के पानी के गरारे

नमक के पानी के गरारे मुँह में कड़वे स्वाद को कम करने में मदद करते है। एक गिलास पानी में एक चम्मच नमक घोल लें। इस घोल का प्रयोग गरारे करके अपने मुंह में मौजूद बैक्टीरिया को मारने के लिए करें। अपने मुंह से संक्रमण को दूर करने के लिए इसे एक दिन में दो बार दोहरायें। यदि आप इस उपाय को गर्म पानी के साथ करते है तो सामान्य पानी की तुलना में ज्यादा बेहतर है क्योंकि वे जीभ और गले पर बैक्टीरिया और संक्रमण को दूर करने में मदद करता है

पुदीना कड़वे स्वाद का सबसे बड़ा दुश्मन है

पेपरमिंट (Peppermints) या श्वास वाले पुदीने (breath mint ) मुँह में कड़वा स्वाद को दूर करने के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं। यह सरल, आसान घरेलु  उपाय कड़वे स्वाद को अस्थायी रुप से समाप्त करते हैं और त्वरित राहत देते है। कम भोजन करना और बार बार भोजन करना इस स्थिति को रोकने के लिए उचित अंतराल बनाए रखने के लिए मदद करते हैं। एक तेज़ गंध वाले खाने से बचने की कोशिश करें जो मुंह में एक अप्रिय गंध का कारण बनते हैं। मुंह को ताज़ा रखने के लिए कड़वे स्वाद को समाप्त करने के इन सरल सुझावों को करके देखें ।

पानी का खूब सेवन करें

मुँह का स्वाद ठीक करना है तो ढेर सारा पानी पिएं जो कड़वे स्वाद को दूर करने में मदद करते है। कम से कम 7 -8 गिलास  पानी पिएं पेट में विषाक्त अम्ल को हटाने के लिए। यह कड़वे  स्वाद को कम करने में मदद करता है। जल आपकी जीभ से बुरे स्वाद को खत्म करता है और शरीर में से विष को बाहर निकलता है

भूख बढ़ाने के लिए

 खाने से पहले नमक के साथ अदरक खाने से भूख बढ़ती है और मुंह का स्वाद भी ठीक होता है. सोंठ का चूर्ण भी खाने के साथ या खाने से पहले लेने से फायदा होता है.

गरमागरम सूप

 बुखार के समय टमाटर का और ग्रीन वेजिटेबल का सूप दोनों ही लाभकारी होता है। दिन में एक से दो बार इसका सेवन करने से शरीर में ताकत आती है। और मुँह का स्वाद भी ठीक होता है

बुखार में इन खाद्य पदार्थो से बचेबचना चाहिये  :-

  1. क्रीम या दूध से बने पदार्थ के सेवन से बचे।
  2. अपने खाने में भारी टला भुना , ज्यादा मिर्च मसाले वाले भोजन को शामिल नहीं करे।
  3. बुखार के समय कैफीन का सेवन कम कर दे।
  4. जब भी आपको बुखार हो तो शराब, तम्बाकू या सिगरेट का सेवन नहीं करना चाहिए।
Loading...

Related posts