Search

स्वर्ण भस्म से शरीर को ताकतवर बनाने के चमत्कार

स्वर्ण भस्म से शरीर को ताकतवर बनाने के चमत्कार
स्वर्ण भस्म (Swarna Bhasma) आयुर्वेद में हजारों साल से प्रयोग कर रहे हैं स्वर्ण भस्म को आयुर्वेद में हजारों सालों से दवाई के रूप में प्रयोग किया जा रहा है आयुर्वेद में स्वर्ण भस्म का अपना एक विशेष स्थान है। यह शरीर में ताक़त देने के साथ साथ मानसिक शक्ति में सुधार करने वाली औषधी कहलाती है। यह हृदय (Heart)और मस्तिष्क (Mind) को विशेष रूप... Read More

बिच्छू घास (बिच्छू बूटी/Nettle) में है विटामिन और मिनरल्स का खज़ाना

बिच्छू घास (बिच्छू बूटी/Nettle) में है विटामिन और मिनरल्स का खज़ाना
क्या है बिच्छू घास बिच्छू घास को अंग्रेजी में नेटल (Nettle ) कहा जाता है। इसका बॉटनिकल नाम अर्टिका डाइओका ( Urtica dioica) है। कुमाऊंनी में इसे सिसूण कहते हैं। वह विशुद्ध कुमाऊंनी शब्द है। बिच्छू घास उत्तराखंड और मध्य हिमालय क्षेत्र में होती है। यह घास मैदानी इलाकों में नहीं होती। बिच्छू घास में पतले कांटे होते हैं। यदि किसी... Read More

ब्रेन फूड जिनके खाने से आपका दिमाग हो जाएगा पावरफुल

ब्रेन फूड जिनके खाने से आपका दिमाग हो जाएगा पावरफुल
ब्रेन फूड जो अपने आप में खास हैं ब्रेन फूड उन लोगों के लिए जो अक्सर छोटी-छोटी बातें भूल जाते हैं। और जब याद आती है तो लगता है मुझसे ये गलती कैसे हो गयी । आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ खास ब्रेन फूड। जिन्हें खाने से अल्जाइमर (Alzheimer’s) रोग नहीं होता है। साथ ही, दिमाग की पावर... Read More

फल खाना ज्यादा लाभदायक है या उनका जूस पीना ?

फल खाना ज्यादा लाभदायक है या उनका जूस पीना ?
फल का सेवन कब और कैसे करें ? फल हमारे स्वास्थ्य कितने लाभकारी है आप इस बात से अंदाज़ा लगा सकते हैं की जब भी हम बीमार पड़ते हैं तो डॉक्टर हमें खाने के लिए फल ही बोलता है और यदि हम अपने धर्म में झांक कर देखें तो देवताओं का भोजन भी फल हैं फल अपने आप में सम्पूर्ण... Read More

अर्थराइटिस के दर्द को बढ़ाने वाले और मुक्ति देने वाले खाद्य पदार्थ

अर्थराइटिस के दर्द को बढ़ाने वाले और मुक्ति देने वाले खाद्य पदार्थ
अर्थराइटिस के दर्द को बढ़ाने वाले आहार अर्थराइटिस की चपेट में आज हर उम्र के लोग आ रहे हैं खास कर  युवा अर्थराइटिस यानि  गठिया या जोड़ो की बीमारी है। जब आपको चलने – फिरने में तकलीफ होने लगे, सो कर उठने पर या सीढियाँ चढ़ने पर जोड़ों में दर्द हो, तो एक ही बीमारी का अंदेशा होता है वह... Read More

ये 10 फूड खाने वाले का डेंगू कुछ नहीं बिगाड़ सकते

ये 10 फूड खाने वाले का डेंगू कुछ नहीं बिगाड़ सकते
डेंगू से बचना है तो खाएं ये 10 फ़ूड आजकल देश के अनेक हिस्सों खासकर दिल्ली में डेंगू बहुत फैला हुआ है। डेंगू होने पर बुखार बहुत तेजी से बढता है और आपके शरीर में खून (Blood ) में प्लेटलेट्स (Platelets) कम होने लगते  हैं। और साथ ही शरीर में कमजोरी बढ़ती चली जाती है।और कई बार तो यह जानलेवा भी... Read More

मोटी से मोटी तोंद को भगाने का आयुर्वेदिक रामबाण नुस्खा

मोटी से मोटी तोंद को भगाने का आयुर्वेदिक रामबाण नुस्खा
मोटी से मोटी तोंद को कहे बाये बाय मोटी से मोटी तोंद का मतलब बहुत अधिक मोटापा (obesity) जो अपने साथ बिमारियों की फ़ौज ले कर आता है वो है मोटापा एक बार आ जाये तो भगाना बहुत मुश्किल काम लगता है बाज़ार में बहुत से नुस्खे बेचने वाले मिलेंगे जो इन बत्तों का दवा करते हैं की उनकी दवाई... Read More

ताकतवर शरीर बनाने के उपाय(Measures to create powerful body)

ताकतवर शरीर बनाने के उपाय(Measures to create powerful body)
ताकतवर शरीर बनाने के उपाय ताकतवर शरीर बनाने के उपाय बहुत से हो सकते हैं लेकिन असली ताकतवर वही होता है जो दूसरों के काम आये ना की हर किसी से पंगा ले कर लड़ाई झगड़ा करे शरीर को ताकतवर बनाने के लिए जिम जाना ही काफी नहीं है बल्कि आपको अपने खान पान का भी ध्यान देना पड़ता है आपको सिर्फ... Read More

लौकी के रस के फायदे (Gourd juice benefits)

लौकी के रस के फायदे (Gourd juice benefits)
लौकी के रस के फायदे लौकी के रस के फायदे तो बहुत है लेकिन यहाँ पर हम आपको कुछ फायदे बता रहे हैं जो आपके दैनिक जीवन से जुडी बिमारियों में बहुत काम आ सकती है लौकी में ९६% जल की मात्रा होती है जो की आपके पाचन तंत्र के लिया बहुत ही अच्छी है पेट फूलना, बवासीर जैसी बीमारी... Read More

मखाना (Prickly Water Lily) के आयुर्वेदिक और औषधीय गुण

मखाना (Prickly Water Lily) के आयुर्वेदिक और औषधीय गुण
मखाना (Prickly Water Lily) क्या चीज़ है ? मखाना हम खाते रहते हैं उपवास में – खीर के रूप में या नमकीन भुने रूप में  मखाना कमल का बीज नहीं होता है ,इसकी एक अलग प्रजाति है, यह भी तालाबों में ही पैदा होता है लेकिन इसके पौधे बहुत कांटेदार होते हैं ,इतने कंटीले कि उस जलाशय में कोई जानवर भी... Read More