Search

चांदी (Silver) रखे आपकी Health and Wealth का ख्याल

चांदी (Silver) एक कीमती धातु है जिसका ज्ञान मनुष्य को प्राचीन समय से है। ऐसा नहीं है की चांदी (Silver) सिर्फ भारत में ही ज्यादा प्रयोग की जाती थी लगभग सभी देशों में चांदी (Silver) को health और wealth का रक्षक माना जाता है आज हम आपको बतायेंगे की चांदी (Silver) किस तरह हमारे काम की है

चांदी के कुछ विशेष स्थिरांक – Silver Constants

loading...

परमाणु चिन्ह – Ag
परमाणु पुंज – 107.8682
गलनांक – 961.8 °C
घनत्व – 10.501 gm/cm³
क्वांथनांक (Bioling point) – 2162 °C

silver

चांदी (Silver) के बारे में कुछ रोचक तथ्य 

1. चांदी (Silver) का रसायनिक चिन्ह Ag है जो कि लेटिन भाषा कि शब्द argentum से लिया गया है, argentum शब्द संस्कृत भाषा के शब्द argunas (अर्गुनस) से आया है। इससे पता चलता है कि हिंदुओं को चांदी की जानकारी बहुत पहले से थी।

2. चांदी (Silver) बिजली का सबसे अच्छा सुचालक (conducter) है। इसे दूसरे तत्वों की सुचालकता मापने के लिए आधार बनाया गया है। तत्वों की सुचालकता के पैमाने (scale) पर जो कि 0 से 100 तक है, चांदी को 100वां स्थान दिया गया है। तांबे को 97वां और सोने को 76वां स्थान दिया गया है।

3. चांदी (Silver)सोने के बाद सबसे लचीली धातु है। सिर्फ 29 ग्राम चांदी की ढाई किलोमीटर लंबी बारीक तार बनाई जा सकती है। पर 29 ग्राम सोने की तार 8 किलोमीटर से ज्यादा लंबी होगी।

4. चांदी में 95% प्रकाश को परिवर्तित करने की क्षमता है। यह सभी तत्वों से ज्यादा है। इस कारण से चांदी का उपयोग उच्च स्तर के शीशे बनाने के लिए, दूरबीनें, microscope और सौर पैनल बनाने के लिए किया जाता है।

5. ‘चांदी’ और ‘धन’ शब्दों के लिए 14 से ज्यादा भाषाओं में एक ही शब्द है।

6. चांदी (Silver) का उपयोग एक ऐसा तेज़ाब बनाने के लिए किया जाता है जो कि cloud seeding में उपयोग होता है। Cloud seeding एक ऐसी तकनीक है जिसका उपयोग समय से पहले वर्षा कराने और चक्रवातों को नियंत्रण रखने के लिए किया जाता है।

7. चांदी का उपयोग भोजन पदार्थों खासकर मिठाइयों की सजावट के लिए किया जाता है। चांदी के कण मनुष्य के शरीर अंदर जाने से कोई हानी नही होती। चांदी में कीटाणुओं को नष्ट करने की समता होती है।

8. पुराने समय में प्राचीन मिस्त्र और मध्य युरोप में चांदी सोने से ज्यादा कीमती थी।

9. वर्तमान समय में नई दूनिया के देश ही ज्यादातर चांदी का उत्पादन करते हैं। उत्तरी अमरीका का मैक्सिकों सबसे ज्यादा चांदी का उत्पादन करता है, इसके बाद पेरू का स्थान आता है।

10. कई लोग Silver को धारण करना लाभकारी मानते हैं। उनका मानना है कि चांदी न केवल दृढ़ता, शांति और संयम पाने का एक अचूक उपाय है बल्कि चांदी सुंदरता को भी निखारता है।

चांदी (Silver) से रखे अपनी health का ख्याल

क्या आप जानते है कि सिर्फ भोजन का संतुलित और पौष्टिक होना ही आवश्यक नहीं बल्कि भोजन करने के लिए आप जिस बर्तन का प्रयोग करते है उसका असर भी आपकी सेहत पर पड़ता है। पुराने समय में लोग चांदी के बर्तनों का प्रयोग किया करते थे, क्योकि यह सेहत के लिए बहुत फायदेमंद  है। चांदी के बर्तन में खाना बच्चों और बड़ो दोनों के लिए लाभदायक है। आइए जाने कैसे?
हमारे आयुर्वेद में केेले के पत्तें पर भोजन करना और चांदी के बर्तन में भोजन करना एक समान है। दोनों ही सूरत में आपके शरीर को औषधीय फायदे मिलते है। घर के बड़े बुजुर्ग हमेशा घर के नन्हें मेहमान को खिलाने-पिलाने के लिए चांदी के बर्तन ही काम में लेने की हिदायत देते है। चांदी शरीर के तापमान को ठंडा बनाए रखती है। आइए जानते हैं इसके फायदे

चांदी (Silver) के बर्तनों से बैक्टीरिया रहे दूर :- चांदी के बर्तनों का प्रयोग बेहद गुणकारी होता है, इसलिए कटोरी,चम्मच और गिलास से लेकर थाली तकचांदीकी प्रयोग की जाती है। इसका प्रमुख कारण यह है कि ये बर्तन बैक्टीरिया फ्री होते है। इन बर्तनों को गर्म पानी में उबालने की जरूरत नहीं होती है, इन्हें बस सादे पानी से ही साफ करना ही पर्याप्त होता है। स्टील के बर्तनों में स्वच्छता का खास ख्याल रखना पड़ता है।

बढ़ाए इम्यूनिटी :- मेटल के बर्तनों में गर्म भोजन करने से मेटल आपके भोजन में मिलकर शरीर मे चला जाता है जो स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है। चांदी के बर्तनों के एंटी-बैक्टीरियल होने के कारण शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

पानी रखे फ्रेश :- ये बर्तन प्राकृतिक रूप से गैर-विषाक्त होते है, जिससे बैक्टीरिया दूर होते हैं। पानी व अन्य लिक्विड्स को इन बर्तनों में रखने से उनकी ताजगी भी बरकरार रहती है।

बॉडी को कूल रखें :- चांदी की एक विशेषता ये भी है कि ये आपके शरीर को ठंडा रखती है। इससे शरीर का तापमान सामान्य रहता है। यही कारण है कि पैरों में चांदी की पायल पहनी जाती है।

चांदी (Silver) का ग्लास : चांदी के ग्लास में पानी पीने से सर्दी-जुकाम की समस्या दूर होती है तो वहीं चांदी के चम्मच से शहद खाने से शरीर विषमुक्त होता है। जिन लोगों को भावनात्मक परेशानियां ज्यादा हैं, वो चांदी का प्रयोग सावधानी से करें।

चांदी (Silver) से रखे अपनी Wealth का ख्याल

चांदी (Silver) की डिब्बी में जड़ : अर्क (अकोड़ा), छाक (छिला), खैर, अपामार्ग, पीपल की जड़, गूलर की जड़ खेजड़े की जड़, दुर्वा एवं कुशा की जड़ को एक चांदी की डिब्बी में रखकर नित्य पूजा करें। जीवन में कभी असफलता नहीं आयेगी, नवग्रह शांत रहेंगे सुख सम्प की बढ़ोरी होगी। धन लक्ष्मी प्राप्ति के टोटकों में यह टोटका अनुभूत सिद्ध प्रयोग है।
चांदी (Silver) का पानी :  एक अन्य चमत्कारी टोटके के अनुसार यदि संभव हो तो हमेशा चांदी (Silver) के बर्तन में पानी पीएं। चांदी बर्तन ना हो तो गिलास में पानी भरें और उसमें चांदी की अंगुठी डालकर पानी पीएं। यह प्राचीन, सरल और बहुत चमत्कारी तांत्रिक उपाय है। इससे धन संबंधी मामलों में राहत मिलती है।
धन की परेशानी दूर करने हेतु: पैसों की तंगी से परेशान हैं। मेहनत करने के बाद भी फल नहीं मिल रहा है तो किसी भी सोमवार की रात जब चंद्रोदय हो जाए तो उसके बाद अपने पलंग के चारों कोनों में चांदी (Silver) की कील ठोक दें। चांदी की कील छोटी-छोटी भी लगाई जा सकती है। इस तांत्रिक उपाय से पैसों की समस्याएं दूर होने लगती हैं।
टिकेगा धन इस उपाय से : यदि आपके पास धन टिकता नहीं है तो महीने के पहले शुक्रवार को चांदी (Silver) की डिब्बी में काली हल्दी, नागकेसर व सिंदूर को साथ रखकर भगवती लक्ष्मीजी के चरणों से स्पर्श करवाकर धन रखने के स्थान पर रख दें। निश्‍चित ही लाभ होगा।
धन का अभाव दूर करने हेतु : घर के उत्तर-पश्चिम के कोण (वायव्य कोण) में सुन्दर से मिट्टी के बर्तन में कुछ सोने-चांदी के सिक्के, लाल कपड़े में बांध कर रखें। फिर बर्तन को गेहूं या चावल से भर दें। ऐसा करने से घर में धन का अभाव नहीं रहेगा।
करियर और व्यापार : आप चाहते है अगर उच्च शिक्षा और करियर में प्रगति तो चांदी (Silver) का चैकोर टुकड़ा हमेशा अपने पास रखें। यदि आप चाहते हैं व्यापार में प्रगति तो चांदी का छोटा सा ठोस हाथी अपनी जेब में रखें।
नोट :- यदि आपके पास भी चांदी (Silver) से जुडी कोई जानकारी है जो आपने आजमाई हुई है तो आप हमारे साथ शेयर कर सकते हैं और यदि आपको ये लेख पसंद आया हो तो अपने मित्रों और रिश्तेदारों के साथ जरुर share  करें क्या पता उनके भी कोई काम आ जाये आपके द्वारा दी गयी जानकारी
Loading...
loading...

Related posts