Search

हरी मेथी के आयुर्वेदिक और औषधीय गुण

हरी मेथी/ Green fenugreek

हरी मेथी गुणों की खान है ये बात आपको शायद नहीं मालूम होगी . हरी मेथी देखने में जितनी छोटी है उसके फायदे उतने ही बड़े हैं यह खाने में थोड़ी कडवी जरुर है लेकिन फायदा इसके मीठा होता है अर्थात सेहत की लिए फायेदेमंद है  इसमें विटामिन के साथ धात्विक पदार्थ और प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाए जाते है यह भूख बढ़ाने में सहायक होता है मैथी में कडवापन उसमे उपस्थित पदार्थ
‘ग्लाइकोसाइड ‘ के कारण होता है मैथी में फास्फेट, लेसिथिन, विटामिन डी और लौह अयस्क होता है जो आपकी स्वास्थ्य जरूरतों को पूरा करते है।सर्दी के मौसम में खाने का लुत्फ़ उठाईये मेथी परांठा, पूरी या भजिया से।

Hari methi  एक वनस्पति है जिसका पौधा १ फुट से छोटा होता है। इसकी पत्तियाँ साग बनाने के काम आतीं हैं तथा इसके दाने मसाले के रूप में प्रयुक्त होते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह बहुत गुणकारी है। हरी मेथी में लोहा अधिक पाया जाता है। जो शरीर की कमजोरी को नष्ट करता है। यह खांसी, कफ, बुखार, बवासीर, टी बी जैसी खतरनाक बीमारियों की रोकथाम करती है। साथ ही मेथी के इस्तेमाल से शरीर की कमजोरी, दांतों की सड़न आदि की बीमारी दूर होती है। मेथी किस तरह से आपकी सेहत के लिए उपयोगी है
भारतीय मसाले खाने का स्वाद ही नहीं, सेक्स पावर भी बढ़ाते हैं। ऑस्ट्रेलिया के सेंटर फॉर इंटिग्रेटिव क्लिनिकल ऐंड मॉलिक्युलर मेडिसिन के रिसर्चर्स ने अपनी स्टडी में यह बात पाई है।
रिसर्चर्स ने पाया कि हरी मेथी में सेक्स पावर बढ़ाने की कमाल की क्षमता होती है। हरी मेथी का इस्तेमाल करने वाले पुरुषों की सेक्स ड्राइव 25 फीसदी ज्यादा रहती है। रिसर्च में 25 से 52 साल के 60 पुरुषों को छह हफ्ते तक दिन में दो बार हरी मेथी का अर्क दिया गया। नतीजे शानदार रहे। उनकी कामेच्छा का स्तर तीन और छह हफ्ते में काफी बढ़ गई।
छह हफ्ते में उनका स्कोर औसतन 16.1 से 20.6 हो गया। यह 28 पर्सेंट ज्यादा था। जबकि गोलियों का इस्तेमाल करने वाल दूसरे ग्रुप का स्कोर बढ़ने के बजाय गिर गया। मेथी के बीज में सैपनियन तत्व होता है, जो सेक्स हार्मोन को बढ़ा देता है।
हरी मेथी खाने के 10 बड़े फायदे:

1. अगर आपको कब्ज या पाचन से जुड़ी कोई भी समस्या है तो हरी मेथी आपके लिए बेहद फायदेमंद है। हरी मेथी के सेवन से पाचन क्रिया पर सकारात्मक असर पड़ता है और कब्ज, गैस जैसी समस्याएं दूर हो जाती हैं.

loading...

2. कोलोन कैंसर के खतरे को कम करने में मदद करता है। मेथी का फाइबर शरीर से विषाक्त पदार्थ टॉक्सिन्स को निकालने में सहायता करता है। इस प्रक्रिया के द्वारा वह कैंसर से कोलोन के म्युकस मेमब्रेन की रक्षा करता है।

3. सर्दियों में मेथी का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है। इसके सेवन से जोड़ों के दर्द की समस्या में फायदा होता है।

4. मेथी की पत्त‍ियों को पीसकर बालों में लगाने से बाल काले, घने और चमकदार बनते हैं।

5. अगर आपके बच्चे के पेट में कीड़े हो गए हैं तो भी हरी मेथी का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है. कुछ दिनों तक बच्चों को मेथी की पत्त‍ियों का रस पिलाने से कीड़े मर जाते हैं।

6. भूख को कम करके वज़न घटाने की प्रक्रिया में मदद करता है। सुबह भिगोया हुआ मेथी दाना खाने से पेट देर तक भरा हुआ महसूस होता है। इसलिए जो लोग वज़न घटाना चाहते हैं वे खाली पेट इसका सेवन कर सकते हैं।

7. मधुमेह के मरीजों को मेथी का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इसका रस पीना भी मधुमेह की बीमारी में बहुत फायदेमंद होता है। (जरुर पढ़े  मेथी दाना (Fenugreek) औषधि के रूप में)

8. मेथी का इस्तेमाल ब्यूटी प्रोडक्ट के तौर पर भी किया जाता है। ये ढीली पड़ती त्वचा में कसाव लाने का काम करता है साथ ही इसके इस्तेमाल से चेहरे पर ग्लो आता है।

9.  हर रोज मेथी की सब्जी खाने से दिल से जुड़ी कई बीमारियों के होने का खतरा कम हो जाता है। कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। अध्ययन के अनुसार मेथी शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। भूख को कम करके वज़न घटाने की प्रक्रिया में मदद करता है।

10. सौन्दर्य उत्पादक- मेथी के बने फेस पैक ब्लैकहेड, मुँहासे, झुर्रियों को रोकने में बहुत प्रभावकारी रूप से काम करते हैं। थोड़े से पानी में मेथी के दानें डालकर उबाल लें फिर उससे मुँह को धोयें। एक और भी तरीका है, मेथी के पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और उसको चेहरे पर बीस मिनट तक लगाकर रखें। सूखने पर पानी से धो लें। इस पैक से चेहरे की रौनक बढ़ जाती है।

11 हर्ट अटैक का रिस्क कम होता है :- मेथी दानें कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित रखते हैं। इसलिए हार्ट अटैक के रिस्क को कम करता है। अपने भोजन में मेथी का साक या मेथी के दानों को इस्तेमाल करें।

12 बहुमूत्रता :- जिन लोगों को बार-बार पेशाब जाना पड़ता हो यानि बहुमूत्रता से परेशान हो उनके लिए मेथी का सेवन लाभकारी होता है। मेथी की भाजी के 100 मि.ली रस में डेढ़ ग्राम मिश्री डालकर नित्य सेवन करने से बहुमूत्रता से छुटकारा मिल सकता है।

13 मेथी चाय- मेथी के दानों को रात भर पानी में भिगायें। सुबह मसल कर आंच पर रख दें, चाय की तरह उबालें। फिर थोड़ा गुड़ व दूध मिला कर पियें। ऊपर बतायी गयी मेथी दाने की चाय पीने से आंतों की सफाई होती है। मेथी दाने एसीडिटी के इलाज में फायदेमंद है।रोज सुबह दाने पानी से फांके।

Article Source :- http://m.haribhoomi.com/

Loading...
loading...

Related posts