Search

शादी :- After marriage and what to avoid ?

शादी के बाद क्या करें और किन बातों से बचें ?

शादी का सपना लड़का और लड़की के लिए एक नए जीवन की शुरुआत होती है हर लड़के और लड़की के एक दूसरे के प्रति अलग अलग सपने होते हैं हर किसी के वो सपने पूरे हो ऐसा जरुरी नहीं है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है की आप अपने जीवन को नीरस बना लें या अपने साथी को बार बार अपमानित करें या उन्हें निचा दिखने की कोशिश करें . हिन्दू समाज में शादी को एक पवित्र बंधन माना जाता है और शादी की नीव परस्पर प्यार और विश्वास पर टिकी होती है यदि आप चाहते हैं की आप का वैवाहिक जीवन सुखी हो और आप दूसरों के लिए एक मिसाल बने तो इन बातों को हमेशा ध्यान रखें

शादी के बाद क्या करें ?

  1. अपने साथी को कभी अकेला महसूस ना होने दें :- शादी के बाद अक्सर देखने में आता है की ज्यादातर जोड़े हनीमून के बाद अपने काम में बिजी हो जात्ते हैं खासकर पुरूष वो समझते हैं की जैसे उन्होंने अपनी जिम्मेवारी पूरी कर दी और अब बीवी का काम है घर की देखभाल करना और आदमी का काम है घर के लिए कमाना यदि आप भी ऐसा सोचते हैं तो आप गलत हैं ये बात आप भी जानते हैं की जो लड़की आपके लिए अपना घर और परिवार को छोड़ कर आपके साथ रह रही है उसने तो अपना पूरा समर्पण कर दिया तो क्या आपको उनका ख्याल नहीं रखना चाहिये ? आप को अपने काम में से समय निकाल कर उनकी पसंद और ना पसंद को जाने और उन्हें घुमाने ले जाएँ | चाहे वो खाना खाने के बाद सैर हो या किसी वीकेंड पर कोई छोटा पिकनिक प्रोग्राम इससे दोनों में एक दूसरे के प्रति प्यार बढेगा और वैवाहिक जीवन सफल होगा  |
  2. अपने साथी का सम्मान बनाये रखें  ;– पत्नी के लिए  प्रेम और सम्मान से बढ़ा तोहफा कुछ नहीं हो सकता, इसलिए जब भी आप किसी पार्टी या रिश्तेदार के यहाँ जाएँ तो जहाँ तक हो पत्नी के साथ रहें , उनपर हक जताएं , उन्हें अपने साथ चलने दें | अगर कोई दावत या पार्टी है तो पत्नी के लिए खाना या कोई डिश या आइसक्रीम लाकर दें | इससे आपके साथी के  दिल में आपकी और से सुरक्षा और सम्मान का एहसास और बढ़ जाएगा |
  3. घर के कामों में एक दूसरे का साथ दें :- शादी के बाद अक्सर देखा जाता है की आदमी को ये लगने लगता है की मुझे एक नौकर मिल गया है और वो अपने दैनिक कामों जैसे कपडे इधर उधर गिराना , अपने जूते एक जगह पर ना रखना एक ही जगह बैठे बैठे हुकुम चलाना (खास कर टीवी के आगे बैठकर) आदि जहां तक हो अपने अधिकतर काम आप खुद ही करें , जैसे अपने कपडे खुद साफ़ करें, अपने बर्तन खुद उठा कर रखे अपने सामान का ख्याल खुद रखें | इससे आपके स्वाभिमानी होने का एहसास उन्हें होगा , और ऐसे ही लोग स्त्रियों को पसंद भी आते हैं | कभी कभी उन्हें सुबह बिस्तर पर चाय पिलाना तो कमाल का काम है , ये उनके दिल में आपके लिए सम्मान को और बढ़ाएगा  |
  4. एक दूसरे को भरपूर प्यार दें :- प्यार सिर्फ एकांत में ही दिखाने के लिए नहीं होता , अपनी पत्नी को प्रेम अभिव्यक्त कहीं भी किया जा सकता हैं  उसके लिए आप जानते हैं की आप को प्यार कैसे दिखाना है ऐसा भी ना हो की लोग आपकी हरकतों को लेकर मजाक बनाये , प्यार की सार्वजनिक अभिव्यक्ति हर किसी को बहुत पसंद आती है खासकर स्त्रियों को। यदि घर में हों तो सिर्फ किसी निश्चित समय के लिए खुद को मत बांधें, मूवी देखते देखते, खाना बनाते हुए, साथ टहलते हुए किये जाने वाले हग्स और हलके हलके किसेस (मौके की नजाकत को देखते हुए ) आपके प्रेम में और प्रगाढ़ता लाते हैं | और कभी मौका मिले तो इकठे नहाने से भी ना चूके ऐसा करने से आप को एक अलग ही रोमांच होगा और ज़िन्दगी के पल आपको अकेलेपन में गुदगुदा देंगे
  5. एक दूसरे के लिए प्रेरणा बनें :- यदि आप के साथ का कोई सपना है और वो उसे पूरा करना चाहता है तो समय निकाल कर एक दूसरे को मोटीवेट करें और एक दूसरे को टिप्स दें | ताकि आप एक दूसरे के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन सकें वो किसी भी रूप में हो सकता है चाहे वो ऑफिस का काम हो या एजुकेशन से रिलेटेड हो या घर के किसी प्रोग्राम की तैयारी हो | अपनी पत्नी की तारीफ करने का कोई मौक़ा न छोड़ें, और साथ ही तारीफ़ लॉजिकल करें |

शादी के बाद क्या न करें ?

  1. अपने साथी के दोस्तों और रिश्तेदारों को लेकर टिप्पणी करने से बचें :– शादी के इस रिश्ते के नाजुक पल में न तो लड़के को लड़की के घरवालों, दोस्तों और रिश्तेदारों का मजाक बनाना चाहिए और न ही लड़की को लड़के के घरवालों व रिश्तेदारों को लेकर किसी तरह की गलत बातें बोलनी चाहिए। इससे दोनों का एक-दूसरे पर विश्वास बना पाना मुश्किल हो जाता है। और अनजाने में ही एक दूसरे के प्रति दिल में खटास पैदा हो जत्ती है जो आगे जा कर बड़ी समस्या का रूप ले लेती है
  2. किसी भी व्यक्ति विशेष से तुलना ना करें :- अपने पार्टनर की किसी से तुलना न करें। फिर वो चाहे आप दोनों को जानकार हो या कोई अनजान आपकी अभी-अभी शादी हुई है और आपका यह तुलनात्मक रवैया आपके शादीशुदा जीवन में परेशानी खड़ी कर सकता है।
  3. एक दूसरे की भावनाओं को ठेस ना पहुंचायें :– एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान करें और किसी काम को लेकर एटीट्यूड न दिखाए। अक्सर देखा जाता है की लड़कियां बहुत बार ऐसा करती हैं कि यह तुम्हारा काम है तो तुम्हें ही करना चाहिए, लेकिन इस बात को मानकर चलना चाहिए कि अब आप दोनों पति-पत्नी हैं और आपको पूरी जिंदगी साथ बितानी है। दोनों एक-दूसरे की मदद करके ही जिन्दगी में आगे बढ़ सकते हैं।
  4. शादी के दौरान हुई किसी भी बात को जायदा तूल ना दें :- ऐसे में खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। अपनी शादी के बाद ऐसी कोई भी बात मत करें जिससे सारी जिन्दगी आपको उस बात को लेकर शर्मिंदा होना पड़े। ऐसे में भूलकर भी शादी के बाद इन टॉपिक का जिक्र अपने पार्टनर से न करें।
  5. यौन समस्याओं से साथ मिलकर समाधान ढूंढे :- सेक्स दाम्पत्य जीवन का आधार होता है | इसलिए ये ख्याल रखें कि आप सिर्फ अपनी तात्क्षणिक उत्तेजना के लिए नहीं बल्कि पत्नी की ख़ुशी के लिए भी सेक्स कर रहे हैं, इसलिए सेक्स से पहले मूड बनाने पे जोर दें, सेक्स को लेकर अलग अलग रिसर्च होते रहते हैं सभी की अपनी राय है कोई कहता है की आप को सप्ताह में 7 दिन सेक्स पर जोर देना चाहिये कोई कहता है की दिन में 2 बार सेक्स जरुर करें लेकिन हमारे मानना है की फोरप्ले करें, रोमांटिक मूवीज देखें | एक और बात- न तो सेक्स ज्यादा करें और न ही कम| हफ्ते में तीन से पांच दिन का समय काफी होता है | और पोजिशंस भी बदलते रहें , इससे रोमांच बढ़ता है | और सेक्स लाइफ भी लम्बी चलती है यदि आपको एक दूसरे इ कोई समस्या है तो उसको आपस में शेयर जरुर करें और उसके प्रति नकारात्मक सोचने की बजाय उसका हल ढूंढे
Loading...
loading...

Related posts