Search

मोटी से मोटी तोंद को भगाने का आयुर्वेदिक रामबाण नुस्खा

मोटी से मोटी तोंद को कहे बाये बाय

मोटी से मोटी तोंद का मतलब बहुत अधिक मोटापा (obesity) जो अपने साथ बिमारियों की फ़ौज ले कर आता है वो है मोटापा एक बार आ जाये तो भगाना बहुत मुश्किल काम लगता है

बाज़ार में बहुत से नुस्खे बेचने वाले मिलेंगे जो इन बत्तों का दवा करते हैं की उनकी दवाई से मोटापा (obesity) नहीं बढेगा यदि आप अपने खान पान पर कण्ट्रोल कर रहे हैं और पानी की मात्रा भरपूर ले रहे  हैं

loading...

मोटी से मोटी तोंद

मोटी से मोटी तोंद को कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटी तोंद से सिर्फ पुरूष ही परेशान नहीं होते महिलाएं भी परेशान है और ये बीमारी पुरुषों की अपेक्षा महिलयों में ज्यादा होती है उसका मुख्य कारण यह है कि औरतों में आंत की लंबाई पुरुषों की आंत के मुकाबले अधिक होती है।

आयुर्वेद के जानकार बताते हैं की यदि आप अपने खाने की मात्रा में नमक की मात्रा को कम कर लेते हैं और साथ पोटेशियम से भरपूर फाइबर वाला भोजन करते हैं तो कितनी भी मोटी से मोटी तोंद (Fat belly fat) हो कुछ ही समय में गायब हो जायेगी

स्वास्थ्य जानकार के  अनुसार पुरुषों के पाचन तंत्र और महिलाओं के पाचन तंत्र में कुछ मूल अंतर होते है इसलिये तोंद को मोटा होने से बचाने के लिए कुछ उपाय बताये जा रहे हैं जिन को अपना कर मोटी तोंद को भी पतली कमर बनाया जा सकता है

  1. पोटैशियम से भरपूर भोजन लें: सोडियम चूंकि शरीर में जल के स्तर को बनाए रखता है, वहीं पोटैशियम अतिरिक्त जल से निजात दिलाने में मददगार होता है। केले और शकरकंदी में पोटैशियम भरपूर मात्रा में होता है यदि इन खाद्य पदार्थ का सेवन किया जाये तो कमर के मध्य हिस्से को पतला करने में मदद मिलती है।
  2. नमक कम खाएं: भोजन में नमक का अधिक प्रयोग करने से भी पेट फूल सकता है। एक दिन में अधिकतम 1500 मिलीग्राम नमक ही खाएं।
  3. बाज़ार वाले मीठे पदार्थो से बचें: फ्लेवर्ड पेय पदार्थो, कम कार्बोहाइड्रेट वाले और चीनी रहित खाद्य पदार्थो को हमारा शरीर आसानी से नहीं पचा पाता। बड़ी आंत में पाए जाने वाले जीवाणु उन्हें फर्मेट करने की कोशिश करते हैं, जिसके कारण पेट में गैस बनती है और पेट फूल जाता है।
  4. भोजन में फाइबर की मात्रा जयादा लें: घुलनशील और अघुलनशील रेशेयुक्त भोजन की मिश्रित मात्रा का प्रयोग करना चुस्त-दुरुस्त और छरहरा रहने का सबसे अच्छा तरीका है। पेट के अत्यधिक भरे होने से बचें, क्योंकि इससे कब्ज होती है।
  5. शरीर में जल की मात्रा बरकरार रखें: सुबह खली पेट 2-४ गिलास पानी जरुर पियें यदि उसमे सिर्फ शहद मिलाना चाहे तो और भी अच्छा है पर्याप्त मात्रा में जल का सेवन करने से भोजन के रेशे अपना कार्य कहीं बेहतर तरीके से कर पाते हैं और कब्ज की शिकायत को दूर रखते हैं।
  6. खट्टे फलों का रस जरुर लें :- सुबह खली पेट यदि खट्टे फलों का रस लिया जाये तो वेह आपको चुस्त तो रखेंगे ही साथ ही आपके शरीर की सफाई भी अच्छे तरीके से कर पाएंगे और आपके शरीर में जहाँ भी फालतू चर्बी हैं उसे काट देंगे जिस कारण आपको पतला होने से कोई नहीं रोक पायेगा
  7. पाचन के तनाव से बचें: बाजार में मिलने वाले फास्टफूड और इतर कंट्री डिशेस खाने से परहेज करें क्योंकि उनमे बहुत से तेज मिर्च मसाले और केमिकल डाले होते हैं जो आपको खाने के बाद उनके पचने नहीं देते और पेट में ऐसे ही पड़े रहते हैं ऐसे खाद्य पदार्थो से दूर रहें जो पचने में मुश्किल हों, जैसे चीनी या वसायुक्त खाद्य पदार्थ। खास केर chinese डिश

मोटी से मोटी तोंद को पतला करने के लिए रात में लीजिये हर्बल चाय (Herbal Tea)

सेहत के लिहाज से ग्रीन टी (Green Tea) को बहुत गुणकारी माना गया है। इसमें प्रचुर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होने के कारण यह शरीर को मजबूत बनाने और कैंसर (Cancer) से बचाव करने में भी मददगार है। ग्रीन टी में मौजूद केमिकल ब्रेन (Brain) का रक्त संचार (Blood Ciculation) सही कर मेमरी बढ़ाने (Increase Memory) में अहम भूमिका निभाते हैं। यह चाय शरीर की मसल्स (Muscles) को एक्टिव बनाने और मेटाबालिज्म दर बढ़ाकर वजन घटाने (Reduce weight) में भी हमारी मदद करती है।

मोटी से मोटी तोंद को पतला करने के लिए हरा जूस (Green Juice)

जूस की साम्रगी :-

दो चम्मच अजवाइन

दो खीरे

दो से 3 नींबू (स्वाद)

एक पत्ता गोभी

एक गुच्छा पालक

चार लाल सेब

अदरक का रस 1 चम्मच

इन सभी को मिक्सर में मिक्स कर लीजिये और जब अच्छी तरह मिल जाएँ तो इसे छानकर इसका जूस पिए फिर देखें की कमाल होता है आप खुद हैरान रह जायेंगे की ये बहित तक अजमाया क्यों नहीं.

Loading...
loading...

Related posts