Search

भिंडी (Bhindi) के फायदे जिनसे आप अनजान हैं

भिंडी (Bhindi) के आयुर्वेदिक और औषधीय गुण

भिंडी हरी सब्जियों में महत्वपूर्ण स्थान रखती है। जो सेहत के लिए बेहद लाभदायक है। प्राचीन समय से ही भिंडी को खाने के तौर पर इस्तेमाल किया जाता रहा है। आयुर्वेद में भिंड़ी के कई गुणों के बारे में बताया गया है। लकिन अभी तक भिंडी के इन फायदों के बारे में शायद ही आपने जाना होगा। आखिर क्यों भिंडी सेहत के लिए फायदेमंद है। भिंडी में मौजूद वसा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम और लौह के साथ सोडियम और फास्फोरस सेहत के लिए बेहद फायदेमंद पोषक तत्व हैं। भिन्डी कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग, नेत्र रोग, कब्ज, एनीमिया, त्वचा रोग और संक्रमण के उपचार में इस्तेमाल किया जाता हैं।

भिंडी के औषधीय गुण :-

 1 . कैंसर – भिंडी को अपनी थाली में शामिल करके आप कैंसर को दूर भगा सकते हैं। खासतौर से कोलन कैंसर को दूर करने में भिंडी बहुत फायदेमंद है। यह आंतों में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करती है, जिससे आंतें स्वस्थ रहती हैं और बेहतर तरीके से कार्य करती हैं।
2  हृदय – भिन्डी आपके दिल को भी स्वस्थ रखती है । इसमें मौजूद पैक्टिन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है, साथ ही इसमें पाया जाने वाला घुलनशील फाइबर, रक्त में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है, जिससे हृदय रोग का खतरा कम होता है।
3  डायबिटीज – इसमें पाया जाने वाला यूगेनॉल, डायबिटीज के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है। यह शरीर में शर्करा के स्तर को बढ़ने से रोकता है, जिससे डायबिटीज का खतरा कम होता है।
4 अनीमिया – भिन्डी एनीमिया में भी काफी लाभदायक होती है। इसमें मौजूद आयरन हीमोग्लोबिन का निर्माण करने में सहायक होता है, और विटामिन- के, रक्तस्त्राव को रोकने का कार्य करता है।
5  पाचन तंत्र –  भिंडी फाइबर से भरपूर सब्जी है। इसमें मौजूद लसलसा फाइबर पाचन तंत्र के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इससे पेट फूलना, कब्ज, दर्द और गैस  जैसी समस्याएं नहीं होती।

loading...

6  हड्डियां बनाए मजबूत – भिंडी में पाया जाने वाला लसलसा पदार्थ हमारी हड्डियों के लिए उपयोगी होता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन-के हड्‍डियों को मजबूत बनाने में सहायक होता है।
7  इम्यून सिस्टम – भिन्डी में विटामिन-सी होने के साथ यह एंटीआक्सिडेंट से भरपूर होती है। जिसके कारण यह इम्यून सिस्टम को मजबूत कर शरीर को बीमारियों से लड़ने में मदद करती है। इसे भोजन में शामिल करने से कई बीमारियों जैसे खांसी, ठंड जैसी समस्याएं भी नहीं होती।
8 आंखों की रौशनी – भिन्डी विटामिन-ए, बीटा कैरोटीन और एंटी-ऑक्सीडेंटद्यस से भरपूर होती है, जो सेल्युलर चयापचय से उपजे मुक्त कणों को समाप्त करने में सहायक होते हैं। यह कण नेत्रहीनता के लिए जिम्मेदार होते हैं। इसके अलावा भिंडी मोतियाबिंद से भी बचाती है।
9  गर्भावस्था में भिन्डी का सेवन लाभदायक होता है। भिंडी में फोलेट नाम का एक पोषक तत्व पाया जाता है जो भ्रूण के दिमाग के विकास को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।इसके अलावा भिन्डी में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।
10  वजन – भिन्डी आपके वजन को कम करने के साथ ही अपकी त्वचा को जवान बनाए रखने में भी मदद करती है। इसका प्रयोग बालों को खूबसूरत, घना और चमकदार बनाने के लिए भी किया जाता है। इसके लसलसे पदार्थ को नींबू के साथ शैंपू की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है।

भिंडी के लाभ –

    • भिन्डी में कम कैलोरी (30 कैलोरी प्रति 100 ग्राम) और उच्च फाइबर होता हैं जो वजन कम करने में मदद करता हैं।
    • भिन्डी में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता हैं और सर्दी, खांसी और संक्रमण से बचाता है।
    • भिन्डी एंटीऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो शरीर में कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकता हैं और कई प्रकार के कैंसर से बचाने में मदद करता है।
    • भिंडी में मौजूद फोलेट (फोलिक एसिड) गर्भवती महिलाओं के शिशुओं में न्यूरल ट्यूब दोष की घटनाओं में कमी कर सकते हैं।
    • भिन्डी में मौजूद बीटा कैरोटीन और विटामिन ए दृष्टि में सुधार लाने में मदद करता हैं। यह मोतियाबिंद, उम्र से संबंधित धब्बेदार अध: पतन और अन्य नेत्र समस्याओं को रोकने में सहायक होता है।
    • भिंडी में घुलनशील फाइबर पेक्टिन होता है जो कोलेस्ट्रॉल कम करने और हृदय रोगों के खतरे को कम करने में सहायक होता हैं।
    • भिन्डी में मौजूद फाइबर पाचन तंत्र मजबूत बनाता हैं और कब्ज को दूर करता हैं। नियमित रूप से भिंडी खाने से पेट के कैंसर के जोखिम को कम कर सकते हैं।
  • भिन्डी का सेवन मधुमेह के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता हैं। यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करता हैं।
  • भिन्डी विटामिन के का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता हैं।
  • भिंडी में मौजूद आयरन, फोलेट और विटामिन के खून की कमी को दूर करता हैं और एनीमिया को रोकने में मदद करता हैं।
  • भिन्डी का सेवन त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता हैं। यह मुँहासे, सोरायसिस और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं के उपचार में मदद करता हैं।

सावधान –  भिंडी में ओजलेट अत्यधि‍क मात्रा में पाया जाता है, जो गुर्दे और पित्त में पथरी या स्टोन के खतरे को बढ़ा देता है तली हुई भिंडी की सब्जी खाने से कोलेस्ट्रोल का स्तर बढ़ता है।

Article Source :- http://legendnews.in/http://3hindi.com/

Loading...
loading...

Related posts