Search

गुलाब जल (Rose Water) के आयुर्वेदिक और औषधीय गुण

गुलाब जल/Gulab Jal

गुलाब जल का नाम आते ही एक ठंडक का एह्सास होता है जी हाँ आज हम उसी गुलाब जल  के बारे में बात करेंगे और आपको इसके उपयोग और गुलाब जल बनाने की विधि भी बतायेंगे !

गुलाब जल की गंध चमत्कारी होती है। इसलिए इसका उपयोग इत्र, मोमबत्ती, रूम स्प्रे, और नहाने के तेल में किया जाता है। लगभग 3000 ईसा पूर्व (क्लियोपेट्रा अपनी सुंदरता के लिए अपनी दिनचर्या में गुलाब जल का इस्तेमाल करती थी) के बाद से गुलाब जल का इस्तेमाल कॉस्‍मेटिक में किया जाता है। साथ ही पूर्वी खाना पकाने में सदियों से इसका इस्तेमाल किया जाता है। गुलाब जल एक सुगन्धित जल है जो को गुलाब की पंखुड़ियों और पानी को मिला कर बनाया जाता है | आज कल तो गुलाब जल का इस्तेमाल ज्यादातर skin को सवारने और साफ़ करने के लिए किया जाता है | परन्तु इसका उपयोग और भी कई चीजों के लिए होता है | ज्यदातर लोग गुलाब जल का इस्तेमाल अपने खूबसूरती बढ़ाने के लिए करते है, इसके अलावे गुलाब जल हमारे त्वचा को निखारने में बहुत मददगार साबित होता है | तो अगली बार अगर आप गुलाब जल का प्रयोग करने जा रहे हों तो निचे दिए गए लाभ के बारे में जरुर याद रखे |

loading...

Gulab Jal एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, टैनिन की उच्‍च मात्रा और फ्लेवोनॉयड्स के साथ पैक किया जाता है। और यह ए, सी, डी, ई और बी 3 जैसी आवश्यक विटामिन से समृद्ध होता है। गुलाब जल पीने से आप आंतरिक चिकित्सा और सफाई के लिए सभी पोषण संबंधी लाभ पा सकते हैं। यहां अपने रोजमर्रा के जीवन में गुलाब जल के जादू का जोड़ने के कुछ तरीके दिये गये हैं

गुलाब जल के फायदे / Benefits of Rose Water

इससे पहले की आपको गुलाब जल के बारे में बतलाया जाये, कुछ चिजे जानना आवस्यक है | गुलाब जल आसानी से आपके नजदीकी दुकान में आसानी से मिल जायेगा, यह सस्ता है और गुलाब जलको घर पर भी बनाया जा सकता है | तो चलिए जानते है गुलाब जल के फायदे और इससे होने वाले लाभ के बारे में |

Dark Circle – अगर आपके आखों के निचे काले दाग या धब्बे हो गये हो तो इसका इलाज़ संभव है | इसके लिए एक रुई (cotton) के टुकड़े को गुलाब जल में डुबो कर आपने आंखे पर रख कर 10 मिनट कर छोड़ दे, ऐसा करने से से आँखों पर पड़े dark circle कम हो जायेंगे | अगर आप पुर्णतः रूप से डार्क सर्किल का इलाज़ खोज रहे है तो आपको इसके अलावे आपको अपने diet और सोने (sleeping) के तरीके को दुरुस्त करना होगा |

ग्रीन टी में मिलाये – ग्रीन टी में Gulab Jal मिलाने से इसमें मौजूद एंटी एजिंग और एंटी कार्सिनोजेनिक (कैंसर विरोधी तत्‍व) लाभ डबल हो जाते हैं। और शरीर में जमा अतिरिक्त टॉक्सिन निकल जाते है। इसे बनाने के लिए ग्रीन टी में एक बड़ा चम्‍मच गुलाब जल का मिलाये।

Softer Lips – अगर आपके होठ (lips) सुख गए हो तो इसका भी इलाज Gulab Jal के पास है | 1/4 चुकंदर (Beetroot) को पिस कर उसमे एक चम्मच गुलाब जल को मिला कर लेप बना लें और अपने होठ पर लगा कर 10 मिनट छोड़ दे, ऐसा करने से होठ नर्म रहते है |

ताजगी का अहसास – Gulab Jal अरोमा थैरेपी का एक हिस्‍सा है। रिसर्च के मुताबिक, अगर नहाने के पानी में गुलाब जल का प्रयोग किया जाए तो काफी सकरात्मक  प्रभाव मिलते हैं। इसके लगातार इस्तेमाल  से तनाव कम, अच्छी  नींद, ताजगी का अहसास और सौंदर्य निखरता है।

Cleaning Face – अगर आप रोजाना बाहर आना जनका करते हैं और धूल और गंदिगी से सामना होता है तो जुलाब जल के उपयोग करने से चेहरा साफ़ हो सकता हैं | रोजाना गुलाब जल से अपने चेहरे को साफ करने से चेहरे में नमी बरकरार रहता है जिससे आप का skin glow करता है और साथ ही साथ skin के छिद्र (pores) में जमे dust को बाहर निकाल देता है |

ओरल स्‍वास्‍थ्‍य की देखभाल – कितनी ही प्रकार की दंत समस्याओं को Gulab Jal की मदद से ठीक किया जा सकता है। गुलाब जल दांतों को मजबूत बनाने के साथ सूजन और मसूड़ों की समस्याओं से राहत प्रदान करता है। इसके अलावा अगर आप मुंह की दुर्गंध से पीड़‍ित है तो गुलाब जल इससे छुटकारा दिलाने में आपकी मदद कर सकता है। नियमित रूप से इससे कुर्ला करने से आप तरो-ताजा सांसें पा सकते हैं।

Makeup Remover – Gulab Jal को एक Natural makeup remover के तौर में भी इस्तेमाल किया जा सकता है | रुई के टुकड़े पर जुलाब जल के कुछ बुँदे ले कर उसमें 2 बूंद बूंद नारियल तेल (coconut oil) मिला कर अपने makeup को आसानी से remove कर सकते है |

Burned Skin – अगर खाना बनाते समय आपके हाथ जल गए हो तो फ़ौरन ठंडे पानी गिराना चाहिये | इसके बाद जले skin पर Gulab Jal लगाने चाहिये, जिससे जलन से आराम मिलती है और घाव जल्दी ठीक होता है |

Wrinkles – अगर आपके चेहरे पर झुर्रियो start हो रही हो तो रोजाना गुलाब जल का इस्तेमाल करने से चेहरे की झुर्रियो कम होती है

Head Pain – अगर आपके सर पर दर्द रह रहा हो तो जुलाब जल में रुमाल को भींगा कर उसे सीधे सर पर 15 से 20 मिनट लगा कर छोड़ दें | ऐसा करने से sar ka dard गायब हो जायेगा |

बेडशीट को बनाये सुगंधित – मीठे सपने और अच्‍छी नींद पाने के लिए गुलाब जल असरकारी नुस्‍खा है। इसके लिए आधा कम पानी में तीन बड़े चम्‍मच गुलाब जल को मिलाकर एक स्‍प्रे बोतल में डाल लें। बिस्‍तर पर जाने से पहले इस सुंगधित पानी को बेडशीट पर छिड़कें।

Face Mask – अगर आप beauty parlor में जा कर face mask लगवाने की सोच रहे है तो आपको यह जरुर पढना चाहिए | घर में उपलब्ध नींबू के रस, चन्दन और जुलाब जल को मिला कर paste बना लें और इसे अपने चेहरे पर लगा कर 20 मिनट छोड़ दें और फिर ठंडे पानी से धो डाले |

  • 2 चमम्च नींबू के रस को लीजिये
  • 4 चमम्च चंदन powder लीजिये
  • 2-3 चमम्च गुलाब जल लीजिये

अब इन तीनो को मिला कर paste बना लें और पाने चेहरे पर लगाये |

Dandruff – अगर आपके सर पर सुरुवाती रुसी के लक्षण हो तो गुलाब जल इसे हटाने में मदद कर सकता है | इसके लिए सोने से पहले अपने सर पर 5 चमम्च जुलाब जल को ले कर मालिश करें और सुबह होने पर अच्छे से शैम्पू कर लें |

Pimples – अगर आपके चेहरे पर फोड़े या फुंसी हो गयी हो तो गुलाब जल इसे हटाने में मदद कर सकता है | गुलाब जल के regular इस्तेमाल से आप pimples ko rok sakte hai और pimples से छुटकारा भी पा सकते है |

गुलाब जल और कच्चा दूध मिलाकर चेहरे पर लगाएं। त्वचा चमक जाएगी।

विधि -(गुलाब जल घर पर बनाने की विधि ) How to make Rose Water at home

कोई बड़ा बर्तन लीजिये, जिसके अन्दर एक दूसरा बर्तन रखा जा सके और वह अच्छी तरह ढका भी जा सके.

बर्तन में जाली स्टैन्ड रख लीजिये, गुलाब की पंखड़ियाँ बर्तन में डाल दीजिये और पानी भी डाल दीजिये. वह बर्तन जिसमें गुलाब जल इकठ्ठा करना है, वह जाली स्टैन्ड के ऊपर रखिये. बर्तन के ढक्कन को उलटा रख दीजिये ताकि भाप बाहर न निकले बल्कि इससे टकराकर नीचे रखे बर्तन में इकट्ठा होता रहे.

गुलाब पंखड़ी भरे इस बर्तन को गैस पर गरम होने रखिये, पानी गरम होने पर, बर्तन के ढक्कन के ऊपर बर्फ के टुकड़े रखिये, पानी में उबाल आने के बाद, भाप ढक्कन की ओर जाती है और ठंडी होकर, पानी बनकर, अन्दर रखे बर्तन में गिरती है, इस तरह गुलाब जल अन्दर रखे बर्तन में इकठ्ठा होता रहता है. 20 – 25 मिनिट में 1 कप गुलाब जल बर्तन में इकठ्ठा हो जाता है और गुलाब पंखुड़ियों में डाला गया पानी खतम हो जाता है. आग बन्द कर दीजिये.

बर्तन को एकदम ठंडा होने दीजिये, बर्तन के ढक्कन को खोलिये, अन्दर रखे बर्तन में जो पानी इकठ्ठा हुआ है वह आपके हाथों से बना गुलाब जल है. गुलाब जल को किसी साफ सूखी बोटल में भर कर रख लीजिये.

अन्य तरीके
पहले कुकर में एस्प्रेसो काफी बनाने वाला अटैचमेन्ट मिलता था. यदि आपके पास यह अटैचमेन्ट उपलब्ध हो तो कुकर में गुलाब के फूल व पानी डालकर एस्प्रेसो काफी के अटैचमेन्ट पर गीला कपड़ा लपेट कर भी आप गुलाबजल बना सकते हैं

कुकर में सीटी लगाने के स्थान पर रबर की गर्मी से न पिघलने वाली नली लगाकर भी आप गुलाबजल बना सकते हैं. नली को थोड़ा लम्बा रखेंगे और उसके ऊपर गीला कपड़ा लपेट देंगे, नली के दूसरी ओर बर्तन जिसमें गुलाब जल इकठ्ठा करना हो रखेंगे, गुलाब और पानी से निकली भाप ठंडी होकर उस बर्तन में इकठ्ठी हो जायेगी और आपका गुलाबजल (Home made Rose Water) तैयार हो जायेगा.

इस तरह घर में उपलब्ध होने वाले सामान से आप अपना गुलाब जल अपने घर में बना सकते हैं.

सावधानियां:
आप जिस बर्तन में गुलाब पंखुड़िया डाल कर पानी डाल रहे है, ध्यान रहे कि बर्तन में जाली स्टैन्ड से ऊपर बहुत ज्यादा पानी न हो, अन्यथा जाली स्टैन्ड पर रखा बर्तन पानी पर तैरकर अपना बैलेन्स खराब कर सकता है.

Loading...
loading...

Related posts